Saturday, 21st September, 2019

अक्षय कुमार से प्रेरित हो भारतीय आईपीएल खिलाड़ियों ने विदेशी नागरिकता के लिए दिया आवेदन, ओवरसीज़ प्लेयर के तौर पे से खेलेंगे आईपीएल

08, May 2019 By Shaitaan Khopdi ™

नयी दिल्ली: जैसे जैसे विश्व कप करीब आ रहा है, कई विदेशी खिलाडी अपनी राष्ट्रीय टीम के साथ अभ्यास करने के लिए आईपीएल से वापस जा रहे हैं| जहाँ एक तरफ टीम के प्रबंधकों में इस बात को ले कर बेचैनी है वहीँ कुछ भारतीय खिलाडी जिनको प्लेइंग एलेवेन में पर्याप्त अवसर नहीं मिले हैं, के दिमाग में इस मौके का उठाने की कारगर तरकीब सूझी है| सूत्रों की मानें तो रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर और राजस्थान रॉयल्स के ६ खिलाडी पिछले कुछ दिनों में दिल्ली की चाणक्यपुरी इलाके में घुमते देखे गए हैं| ये वही इलाका हैं जहाँ सारे विदेशी देशो के दूतावास हैं| बताया जा रहा है की एक बार इनको विदेशी खिलाडी का दर्जा  मिल गया तो ओवरसीज़ प्लेयर के तौर पे प्लेइंग एलेवेन में जगह मिलना आसान हो जायेगा|

नाम न छापने की शर्त पे स्टुअर्ट बिन्नी ने हमारे संवाददाता शैतान खोपड़ी से बात करी

शैतान खोपड़ी : बिन्नी जी नमस्कार, सुना है कल आप अफ़ग़ानिस्तान के दूतावास भेष बदल के गए थे| क्या चल रहा है?

अक्षय कुमार को भी क्रिकेट पसंद है
अक्षय कुमार को भी क्रिकेट पसंद है

स्टुअर्ट : देखिये विश्व कप में जिनको खेलने की उम्मीद है वो ओवरसीज़ प्लेयर जा चुके हैं| जब ओवरसीज़ प्लेयर नहीं होंगे तो उनके ४ स्लॉट्स भरने के लिए और विदेशी खिलाडियों की ज़रूरत तो पड़ेगी| हम लोगो को घर की मुर्गी दाल बराबर कह के वैसे ही टीम में शामिल नहीं किया जाता, लेकिन अगर हमारे पास विदेशी पासपोर्ट हो तो हमारी कीमत टीम मैनेजमेंट नज़रों में काफी बढ़ जाएगी| जैसे देसी आईएएस दूल्हे से ज्यादा NRI दूल्हे को भाव दिया जाता है|

शैतान खोपड़ी : कमाल की सोच है| ये ख्याल कहाँ से आया

स्टुअर्ट : जी कुछ दिन पहले हमने अपने खिलाडी कुमार यानि कि अक्षय कुमार को मोदी जी का गैर-राजनीतिक इंटरव्यू लेते हुए टीवी पे देखा| मतलब जहाँ रविश, बरखा और राजदीप जैसे मंझे हुए राजनीतिज्ञ उनका साक्षात्कार लेने में असफल रहे, वहीँ खिलाडी कुमार ने अभिनेता बनके वोही सवाल पूछ डाले और सारी बिरादरी मुँह ताकते रह गयी| फिर पता चला की अक्षय विदेशी कोटे से हैं| अब एक खिलाडी ही तो दूसरे खिलाडी को प्रेरित करेगा|

शैतान खोपड़ी : मतलब देश से धोखा?

स्टुअर्ट : काहे का धोखा? यहाँ जेब खर्ची कमाना मुश्किल हो रहा है वहां लोग कनैड्डा के नागरिक बन के ऐश कर रहे हैं|

शैतान खोपड़ी : लेकिन अफ़ग़ानिस्तान की नागरिकता क्यों? ऑस्ट्रेलिया या दक्षिण अफ्रीका की ले लेते, या फिर अक्षय की तरह कनाडा की|

स्टुअर्ट : अपनी औकात भी देखनी पड़ती है| अक्षय कुमार के तो लाखों फैन होंगे कनाडा में, हमको तो वहां काना कौव्वा भी नहीं पहचानेगा| फ्लाइट पकड़ के कैनेडा जाने के भी पैसे नहीं बचे हैं| अफ़ग़ानिस्तान जाने के लिए तो कार्गो शिप में बैठ के भी जा सकते हैं|