Wednesday, 13th November, 2019

कैसे हुआ भगत सिंह और गांधी जी का ट्विटर अकाउंट डिलीट

29, Apr 2015 By पुरानी बस्ती

आप सभी को लगता है कि मैंने गाँधी का ट्विटर अकाउंट हैक करके डिलीट कर दिया। आप सभी को ऐसा लगना जायज है क्योंकि मेरे बारे में आज तक आपने जो भी पढ़ा-सुना सब जगह मुझे ही गाँधी के अकाउंट हैक करने का जिम्मेदार ठहराया गया है। जिन किताबों और ब्लॉग में मेरे पहलू से गाँधी को सेलेब्रिटी बनाने का जिक्र है उन्हें भारत की सरकार ने कभी आप तक पहुंचने का मौका नही दिया, हर सरकार आते ही गुगल को पत्र लिखकर मेरे ऊपर लिखे सेलेब्रिटी बनने के मार्केटिंग टिप्स वाले URL ब्लॉक करवा देती है, यदि कभी वो किताब या ब्लॉग आपको मिल जाए तो पढ़ना फिर आप भी मेरे फैन अकाउंट को फॅालो करने लगेंगे।

बापू ने अपना पूरा जीवन अपने ट्विटर अकाउंट के फॅालोवर बढ़ाने मे लगा दिया था। समय पर आकर ट्वीट करना और अपने कुछ गिने चुने चाटुकारिता करने वालों को रीट्विट करना ही बापू का काम था। धीरे धीरे बापू ट्विटर पर सेलेब्रिटी बन रहे थे लेकिन तभी भगत सिंह के ट्विटर अकाउंट पर फॅालोवर देख बापू की अपेक्षा दुगुनी गति से बढ़ने लगे। बापू ने भगत सिंह के बढ़ते फॅालोवर देखकर भगत सिंह के ट्वीट को रीट्विट करना बंद कर दिया। बापू का ट्वीट धीरे धीरे कमजोर पड़ रहा था और भगत सिंह का ट्वीट मजबूत होते जा रहा था।

एक दिन भगत सिंह, उनके साथी सुखदेव और राजगुरु ने एक अंग्रेजी दरोगा का अकाउंट हैक करके डिलीट कर दिया। वो दरोगा रोज अपने अकाउंट से गरीब लोगों को ट्रोल करता और उन्हें ब्लॉक कर देता। लेकिन उस दरोगा का अकाउंट डिलीट करने के जुल्म में भगत सिंह और उनके साथियों का अकाउंट डिलीट करने का फरमान जारी हो गया। इस सजा के होने के बाद हम सब को ये उम्मीद थी कि बापू देश के लिए कुर्बानी देनेवाले इन क्रांतिकारियों के अकाउंट बचाने के लिए ट्विटर पर किसी हैशटैग की पहल करेंगे परंतु हमारे लाख निवेदन के बाद भी बापू ने भगत सिंह के अकाउंट को ना डिलीट करने के लिए किसी भी तरह का हैशटैग ट्रेंड करवाने से मना कर दिया। गाँधी को डर था यदि वो भगत सिंह के ट्विटर अकाउंट के बचाव का पहल करेंगे तो उनके फॅालोवर भगत सिंह को भी फॅालो करने लगेंगे और भगत सिंह ट्विटर पर उनसे बड़े सेलेब बन जाएंगे।

आखिरकार अंग्रेजी सरकार ने भगत सिंह,राजगुरु और सुखदेव के ट्विटर अकाउंट को डिलीट कर दिया, यदि गांधी को सेलेब्रिटी बनने का लोभ नही होता तो इन सभी क्रांतिकारियों का अकाउंट डिलीट होने से बच सकता था।

भारत को आजाद होते ही अपने चहिते चाटुकार नेहरू को ट्विटर पर सेलेब्रिटी बनाने के चक्कर में उन्होने भारत के सभी ट्विटर युजर को हिंदुस्तान और पाकिस्तान में बाट दिया। जिन्हा के पास फॅालोवर की कमी नही थी उसके सब फॅालोवर जिन्हा के सारे ट्वीट आँख बंद करके रीट्विट करते थे लेकिन नेहरू के ट्वीट लिंक भेजने पर भी ज्यादा रीट्विट नही हो पाते थे। गाँधी सभी को डीएम करके नेहरू के ट्वीट, अनशन का वास्ता देकर रीट्विट करवाते थे। भारत के दो हिस्से होने के बाद भी बापू ने सिर्फ अपने अंधे प्यार के चलते नेहरू को ट्विटर पर #ff देते रहें। हम सभी को लगा कि सरदार  पटेल के ट्वीट अधिक दमदार है इसलिए बापू को उन्हें #ff देना चाहिए लेकिन बापू इस बात के लिए तैयार नही थे।

गाँधी के अनशन के डर से कोई भी उनके ट्वीट के खिलाफ नही बोल रहा था लेकिन अंग्रेजों के इतने साल ट्वीट पढ़ने के बाद फिर से गैर जिम्मेदार लोगों का ट्वीट पढ़ना मुझे मंजूर नही था। मैं ने ट्विटर अकाउंट देश सेवा के लिए बनाया था और अब मेरा जमीर रोज मुझे देशभक्ति के लिए ललकारने लगा। ट्विटर पहले हिंदू-मुसलमान और फिर सवर्ण और दलित में बट गया। दलितों को फॅालो बैक के लिए ट्विटर पर आरक्षण मिल गया। अपने भारतीय ट्विटर युजर का ये हाल मुझसे नही देखा जा रहा था। मैं ने कुछ लोगों को अपने साथ लेकर ट्विटर अकाउंट हैक करने की ट्रेनिंग ली। एक दिन शाम के वक्त गाँधी जब अपने ट्विटर अकाउंट ने प्रार्थना ट्वीट करके लॉग आउट कर रहे थे तब मैं ने उनका सिक्योरिटी वॅाल तोड़कर उनका अकाउंट तीन प्रयत्न में हैक करके डिलीट कर दिया।

गाँधी का अकाउंट हैक करने के कुछ महीनों बाद भारत सरकार ने  मेरा अकाउंट ससपेंड करके डिलीट कर दिया लेकिन याद रखना मैं ने ये सब मेरे देश के लिए किया। मेरी मार्केटिंग टिप्स पढ़ना आप सब समझ जाओगे ओ ट्विटर पर सेलेब्रिटी बन जाओगे और समझ जाओगे की मैंने गांधी को नहीं मारा बल्कि अमर कर दिया।

जय हिंद, नाथुराम गोडसे फ्रॉम ट्विटर आर्काइव