Wednesday, 19th September, 2018

मोदी जर्मनी में; अर्जेंटीना के अख़बार का खुलासा उन्हीं की वजह से आये हैं जर्मनी के अच्छे दिन

14, Jul 2014 By बगुला भगत

जर्मनी के फ़ुटबॉल वर्ल्ड कप जीतने के बारे में एक सनसनीख़ेज़ खुलासा हुआ है। अर्जेंटीना के एक अख़बार ने यह दावा किया है कि “भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जर्मनी को वर्ल्ड कप जिताया है।”

अख़बार ने सवाल उठाया है कि, “मोदी ब्रिक्स की मीटिंग में भाग लेने के लिए ब्राज़ील के लिए रवाना हुए थे, लेकिन वहां पहुंचने से पहले वे जर्मनी क्यूं पहुंच गये? ज़रूर मोदी ने ही जर्मनी को अपना ‘अच्छे दिन’ वाला फ़ॉर्मूला दिया है!”

Modi
“इंडिया का नंबर भी आएगा”

अर्जेंटीना की राष्ट्रपति क्रिस्टीना क्रिश्नर ने भी मोदी के बर्लिन पहुंचने की टाइमिंग पर सवाल उठाया है। क्रिश्नर ने पूछा कि “ऐन फ़ाइनल वाले दिन ही वो जर्मनी क्यूं पहुंचे? आई एम श्योर, जर्मनी के अच्छे दिन उन्हीं की वजह से आये हैं।”

उधर, ब्राज़ील की राष्ट्रपति डिल्मा रूसेफ़ ने इसे ब्रिक्स देशों की पीठ में ईंट मारने के समान बताया है। रूसेफ़ ने नाराज़गी जताते हुए कहा कि “हमारी दुर्गति करवाने के बाद अब यहां क्या लेने आये हैं! क्या वो सेमीफ़ाइनल वाले दिन ब्राज़ील नहीं आ सकते थे?”

नरेंद्र मोदी के इस ताज़ा चमत्कार के बाद दुनिया भर में उनकी मांग बढ़ गई है। कई देशों ने मोदी की एडवांस बुकिंग के लिए कोशिशें शुरु कर दी हैं। खासकर फ़ुटबॉल के अगले वर्ल्ड कप के लिए। सुनने में आया है कि मोदी के ब्राज़ील पहुंचते ही वहां की सरकार उनसे अगले वर्ल्ड कप के लिए डील कर लेगी।

बर्लिन में जीत की खुशी मना रहे समर्थक मोदी के समर्थन में नारे लगाते हुए चिल्ला रहे थे “घर घर मोदी, फ्यूरर मोदी!” कई समर्थकों के हाथों में मोदी के बड़े-बड़े पोस्टर नज़र आ रहे थे, जिन पर जर्मन भाषा में ‘नमो-नमो’ लिखा हुआ था।

इस बीच, कांग्रेस के राजीव शुक्ला ने इस मसले पर चुटकी लेते हुए कहा कि “अगर ऐसा है तो मोदी जी ने जर्मनी के बजाय इंडिया को क्यूं नहीं जितवा दिया वर्ल्ड कप! अपने यहां तो पब्लिक अच्छे दिनों के लिए तरस रही है, और वो जर्मनी में चमत्कार दिखा रहे हैं!” इसके जवाब में बीजेपी के प्रवक्ता शाहनवाज़ हुसैन ने कहा कि “सब्र रखो! साठ महीने में इंडिया को भी जिता देंगे।”