Thursday, 20th September, 2018

मुख्यमंत्री केजरीवाल बनेंगे धरना गुरु

27, Jun 2018 By shaukin lekhak

अपने  भांति भांति के धरनो  के लिए मशहूर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल धरना गुरु बनाने की तैयारी में है. यह सूचना उन्होंने खुद राज्यपाल महोदय के यहाँ तीन दिन से चल रहे धरने के दौरान दी। पिछले तीन दिनों से अरविन्द केजरीवाल अपने कुछ सहयोगियों के साथ राज निवास के प्रतीक्षा गृह में धरने पर लेटे  है और राज्यपाल  से मिलने का वक़्त मांग  रहे हैं. इसके पहले भी वो रेल मंत्रालय के बाहर सड़क पर, अन्ना  हजारे के साथ, और भी कई मौको पर ऐसे विचित्र धरने दिखा  चुके  है।

गुरु केजरीवाल धरने के शिष्यों को आशीर्वाद देते हुए
“सब को धरना देने सिखाएँगे; कृपया शांत हो जाइए”: गुरु केजरीवाल धरने के शिष्यों को आशीर्वाद देते हुए

केजरीवाल जी की राजनीती का जनक ही धरना है, इस बार जब उन्होंने यह आरामदायक धरना शुरू किया तो देश विदेशो से उनके इस धरना स्टाइल की चर्चा हो रही है, कुछ नामी धरना विशेषज्ञो के फ़ोन लगातार आ रहे है। आप पार्टी  सूत्रों ककी माने तो परम्परागत तरीको से धरने करने से पार्टी फण्ड में कमी आ रही थी और खर्चा भी बहुत हो रहा था, साथ ही साथ सेहत का भी बुरा हाल हो जाता था इसी लिए इस बार मनीष सिसोदिया, केजरीवाल और पार्टी के गणमान्य  सदस्यों ने इस आरमदायक धरने का प्रस्ताव रखा. सारा खर्चा सरकारी और धरना  आप पार्टी का।

धरने पर साथ दे रहे मनीष सिसोदिया का कहना है कि बाहर गर्मी बहुत थी इसी लिए हम ऐसे धरने के बारे में सोच रहे थे की सांप भी मर जाये और लाठी भी न टूटे। तभी अरविन्द भाई ने अपनी किताब सफल धरने के १००० नुस्खे से यह नुश्खा निकाला और रिजल्ट आप सब के सामने है. साथ ही साथ जब हमें अपने आईटी सेल से जानकारी मिली की धरना इंटरनेशनल लेवल पर वायरल हो रहाहै और  फ़ोन पर फ़ोन आये जा रहे है तो अरविन्द भाई ने धरना गुरु बनने का मन बना लिया,  अब बना लिया तो हम क्या कह सकते है।

केजरीवाल  जी की इस बनिया बुद्धी से देश विदेश के नेता, मंत्री  सब हैरान है वो इस तरह के नए नए धरनो के बार में माननीय मुख्यमंत्री जी से सीखना चाहते है, लगातार पार्टी ऑफिस में फ़ोन पर फ़ोन आये जा रहेहै, बढ़ती हुयी डिमांड को देखते हुए केजरीवाल जी ने ट्ववीट के माध्यम से घोसड़ा की की अब अपने आप को धरना गुरु केजरीवाल कहलवायेंगे। और जल्द ही इसके लिए एक इंस्टिट्यूट खुलवायेंगे जिसके लिए शिक्षा मंत्री ने हामी दी है। मनीष सिसोदिया, संजय सिंह आदि को टीम में शामिल करने की योजना है, कुमार विश्वास के नाम पर केजरी जी मुस्कुराये और बोले जब  धरनो  का स्टाइल बदल रहा है तो तरीके भी बदलने पड़ते है कब तक कविताओं से काम चलाएंगे अब जमाना रॉक का  है।