Saturday, 23rd March, 2019

पाकिस्तान- बालकोट के हमले के बाद ज़मीनी रिपोर्ट

28, Feb 2019 By akumar

जब से भारत की वायुसेना ने रात के अँधेरे में आतंकवादियों के ठिकाने पर हमला किया हैं, पाकिस्तान में पूरा माहौल गरम हैं। पाकिस्तानी रक्षा मंत्री ने भारत  को कायर ठहराया हैं। हमारे F-16 को रात में नहीं सूझता और इसका फ़ायदा उठाकर भारत ने हमपे हमला किया हैं। हमारे जंगी जहाज-तैय्यारे अभी पूरी तरह नाईट- विज़न वाला चश्मा भी नहीं पहन पाए थे कि भारत  के डरपोक भाग लिए।

पाकिस्तान के टीवी चैनल पर बालकोट निवासीयों भी भारत को खूब भरा बुरा बोल रहे थे। अकेले में एक ने बताया कि हम तो सोचते थे कि भारत सिर्फ कब्ज़ा वाले कश्मीर तक आएगा, उसने तो हमें धोखा दिया। एक खातून ने धीरे से कहा “टमाटर गिरा देता भारत तो उसे लूटने में ३०० से ज्यादा मर जाते।”

रावलपिंडी 

मेजर जनरल ग़फ़ूर ने एक प्रेसवार्ता में बताया- तीन पेड़, चार झाड़ियाँ और 11 फूल के पौधे ही उखाड़ पाया भारत। हम अपने तरीके से जवाब देंगे। तभी उनका फ़ोन बजने लगा। ऐसा लगा की वो अपनी फ़ोन के बातचीत को दुनिया तक पहुँचाना चाहते थे। “हेलो! हाफ़िज़ साब- नहीं, नहीं- आपही को कुछ करना पड़ेगा।  हमारी हालत आपसे छुपी नहीं हैं, तेल भरने के पैसे नहीं है सरकार के पास। आपने तो अभी विदेशी मेहमान से बहुत नोचा है ज़कात के नाम पे। कप्तान ने तो ड्राइवर की बख्शीश वाला पैसा सरकार को देने से मना कर दिया हैं, बोल रहा हैं कि ये उसने अपनी मेहनत से कमाए हैं। आपको 29 फेब्रुअरी को कुछ न कुछ करना ही पड़ेगा”.

वैसे मेजर जनरल ग़फ़ूर का पाकिस्तान का नया चीफ ऑफ आर्मी स्टाफ बनना तय माना जा रहा हैं। जो आदमी सुबह-शाम बिना पानी मिलाये झुठ पर झुठ बोल सके, पाकिस्तानी सेना में उसका प्रमोशन पक्का माना जाता हैं।

मुरीदके -पंजाब,पाकिस्तान 

आतंकवादियों में भी अफरा-तफरी का माहौल बताया जा रहा। कई नए लड़के अपने आकाओं का हुक्म मानने से मना कर रहे हैं। उनका कहना है कि जब 72 हूरों को डोर-डिलीवरी हो रहीं हैं तो इतना मेहनत क्यूँ?

@khakshar