Wednesday, 19th December, 2018

राहुल गांधी ने छठ पूजा पर जैसे ही भगवान सूर्य से माँगा आशीर्वाद, सूर्यदेव धुंध में छुप गए

16, Nov 2018 By Ranjan

छठ पूजा की छटा हर तरफ बिखरी है। पटना के गंगा और दिल्ली के यमुना से ले कर मुंबई के अरब सागर तक में छठ का पावन पर्व धूम धाम से मनाया गया है। ऐसे में कई राजनीतिज्ञ भी जनता के बीच छठ पूजा में शामिल हुए। इन्हीं में से एक राहुल गांधी जी जब यमुना नदी के किनारे छठ पूजा देखने पहुंचे और उगते सूर्य की तरफ हाँथ जोड़ कर मन्नत माँगना शुरू किया तो तुरंत ही चारो तरह धुंध छा गया और भगवान सूर्यदेव विलुप्त हो गए।

राहुलजी बाहर सूरज देवता अंदर!
राहुलजी बाहर सूरज देवता अंदर!

ऐसी स्थिति देख कर राहुल जी कुछ देर के लिए किंकर्तव्यविमूढ़ से खड़े रहे और फिर वहाँ मौजूद मिडिया कैमरों की तरफ मुखातिब हुए। मिडिया से बात करते हुए राहुल जी ने कहा की इस घटना के पीछे मोदी जी का हाथ है और मोदी जी नहीं चाहते हैं की मुझे भगवान सूर्यदेव और छठी मैया का आशीर्वाद मिले।

राहुल गांधी ने आगे कहा की जब उनकी सरकार आएगी तब वे ये निश्चित करेंगे की सूर्यदेव तब तक धुंध में ना छुपे जब तक सभी का मन्नंत माँगना खत्म ना हो जाए। कांग्रेस नेताओं के अनुसार ये बताया गया की राहुल गांधी ने 2019 में प्रधानमंत्री बनने का मन्नत माँगा था जिसके बाद सूर्यदेव धुंध में विलुप्त हो गए। हालांकि भाजपा नेता इस मामले पर चुटकी लेते हुए ये बताते पाए गए की राहुल गांधी दरअसल अपने लिए भगवान सूर्यदेव से एक पत्नी मांग रहे थे जिसके बाद भगवान विलुप्त हो गए।

भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने इस पूरे मामले पर कहा है की जिसकी बात सुनने के लिए भगवान भी तैयार नहीं होते हैं और विलुप्त हो जाते हैं उन्हें भारतीय जनता वोट भी नहीं देगी। संबित ने कटाक्ष करते हुए कहा की अगर राहुल गांधी को पत्नी चाहिए तो वे वेटिकन में दुआ करें तो शायद इटली में उन्हें कोई लड़की मिल जाएगी।