Sunday, 21st July, 2019

रोज़गार को चुनावी मुद्दा बताने वाले बेचलर को सोसाइटी से निकाला गया

01, May 2019 By funnyattorney

शनिवार देर शाम देश के एक जाने माने न्यूज़ चैनल ने देश का मूड जानने के लिए नॉएडा स्थित एक सोसाइटी का मुयाना किया और लोगों से उनकी राय पूछी। बहस के दौरान सोसाइटी में रहने वालों ने खुल के बात की और उनके जीवन को प्रभावित करने वाले मुद्दों को न्यूज़ चैनल के सामने रखा। अभी अभी रिटायर्ड हुए एक अंकल ने बताया के उनकी सोसाइटी का सबसे बड़ा मुद्दा राफेल का है तो उनको टोकते हुए दुसरे अंकल ने कहा के चौकीदार चोर नहीं है और सबसे बड़ा मुद्दा हिन्दुओं के ऊपर मंडराता खतरा है।

बहस बहत ही गर्म माहौल में चल रहा था के तभी सोसाइटी में रहने वाले एक बेचलर को जब एंकर ने पूछा तो उसने बताया के उसके लिए सबसे बड़ा मुद्दा रोज़गार है। इसी बात पर सोसाइटी के सारे वरिष्ठ लोग और साथ में न्यूज़ चैनल  की एंकर  भड़क गयी।  रोज़गार को मुद्दा बताने वाले युवक की खूब बेइज़्ज़त्ती की गयी और उससे सोसाइटी छोड़ने का निर्देश दे दिया गया।

जब हमने सोसाइटी के सेक्रेटरी से इस बारे में जवाब तालाब किया तो उन्होंने कहा “गैर इम्पोर्टेन्ट मुद्दों को चुनाव में लाके यह नौजवान देश को भटका रहे हैं इसीसलिए उसको सोसाइटी से बहार निकाल  दिया गया।” सोसाइटी के एक और बरिष्ठ व्यक्ति जिन्होंने उस युवक की शिकायत की थी उन्होंने हमको बताया “मैं उस दिन डिबेट में था और उस युवक की बात सुनी। वह देशद्रोहियों जैसे बात कर रहा था। आज जब देश के ऊपर संकट है और देश में चुनाव चल रहे हैं ऐसे माहौल में रोज़गार जैसे मुद्दे उठाकर राजनीती का मज़ाक उड़ने वाला देशद्रोही ही हो सकता है और उससे हमारे सोसाइटी में रहने का की अधिकार नहीं है।”

इस मामले में हमने उस युवक का भी पक्ष्य जानने की भी कोशिश की पर बात नहीं हो पायी। प्राप्त सूत्रों के अनुसार अब वह युवक नेशनल ह्यूमन राइट्स कमीशन का दरवाजा खड़खड़ाने की सोच रहा है। उस का मानना है के उसस्के साथ यह बर्ताव इसीलिए हुआ है क्यूंकि वह माइनॉरिटी से आता है। सोसाइटी में बेचलर सबसे शोसित माइनॉरिटी बर्ग के होते हैं और उनका हर अधिकार छीन  लिया जाता है। अब वह युवक इस लड़ाई को केवल अपना नहीं पूरे समाज की लड़ाई बनाने में जुट गया है। वह अपनी आवाज़ को हर उस बेचलर की आवाज़ बना चाहता है जिसको घर भाड़े पे नहीं मिलती और मिल भी जाए तो  फ्लैट में हाउस पार्टी  करने , गर्लफ्रेंड को लाने और गांजा फूंकने की पाबन्दी झेलनी पड़ती है।
हमारे सूत्रों ने यह भी जानकारी दी है के अभी युवक अपने मोर्चे की तैयारी करने के लिए अपने  एक घनिष्ठ दोस्त के यहां रुका हुआ है जो की हाल ही में कसौल से जड़ी बूटी लेकर लौटा है।  जैसे ही तैयारी ख़तम होगी युवक ने वादा किया है के  वह हमने अपना इंटरव्यू देगा जोकि नॉन पोलिटिकल और एक्सक्लूसिव इंटरव्यू होगा।