Thursday, 18th October, 2018

​संबित पात्रा के सपने में आकर रामलला ने कहा मंदिर नहीं गरीबों के लिए भव्य स्कूल और अस्पताल बना दो: पात्रा ने कहा पाकिस्तान ने की है Inception वाली साजिश

01, Oct 2018 By gotiya

नई दिल्ली. सुप्रीम कोर्ट के हालिया निर्णय के बाद अति प्रसन्न संबित पात्रा जब न्यूज़ डिबेट के बाद घर जाकर खुशी-खुशी सोए तो एक अप्रत्याशित सपने ने उन्हें झकझोर कर रख दिया. संबित ने मीडिया को बताया कि सपने में उन्होंने देखा कि वे ज़ी न्यूज़ के स्टूडियो से बाहर निकल रहे हैं और अचानक से एक तेज रोशनी उनसे आकर टकराई. जब रोशनी कम हुई तो वे एक छोटे बच्चे बन गए चुके थे और रामलला उन्हें गोदी में रखकर उनके बाल सहला रहे थे. रामलला ने संबित की मेहनत की तारीफ की जिस सुनकर बालक संबित के खुशी के आंसू बहने लगे.

वे ‘जय श्री राम’ का उदघोष करके ‘मंदिर वहीं बनाएंगे’ कहने ही वाले थे कि रामलला ने कहा “बेटा संबित, जब मैं राजा था तो इंसान तो क्या कुत्ते के भी दुख में रोने की आवाज सुनकर महल से दौड़कर उसकी सेवा करने निकल पड़ता था. रामराज्य लाने का इससे बेहतर तरीका और क्या हो सकता है कि BJP ऑफिस की तरह मेरी प्रजा के लिए भी अपनी उन्नति के लिए कुछ आलीशान हो. इसलिए मैं चाहता हूँ कि तुम मंदिर के बजाय अयोध्या की मेरी गरीब प्रजा के लिए भव्य स्कूल और हॉस्पिटल बना दो.”

संबित ने बताया कि यह सुनते ही उनकी चीख निकल गई और वे नींद से उठ बैठे. उन्होंने तुरंत अमित शाह, अर्नब, सुधीर चौधरी और अमीश देवगन को कांफ्रेंस कॉल की और सपने के बारे में बताया. शाह ने कहा कि ये पाकिस्तान की साजिश है. सुधीर का कहना था कि शायद पाकिस्तान के वैज्ञानिकों ने इन्सेप्शन फ़िल्म की टेक्नोलॉजी विकसित कर ली है और वे अब रामभक्तों को टार्गेट करके भटकाना चाह रहे हैं. शाह ने संबित को सतर्क रहने की हिदायत दी और लक्ष्य पर डटे रहने को कहा.

अमीश का कहना था कि महाभारत के समय में ऐसी टेक्नोलॉजी मौजूद थी, लेकिन सीनियर अर्नब ने टोकते हुए प्रैक्टिकली सोचने को कहा और सुझाव दिया कि मोदी जी को भारत के वैज्ञानिकों को भी ऐसी तकनीक विकसित करने के लिए कहना चाहिए.

फ़ेकिंग न्यूज़ का भी अनुमान है कि वीर भारतीय सैनिकों द्वारा आतंकवादियों को लगातार मार गिराने और BJP द्वारा भारत की कायापलट करने से पाकिस्तान बौखला गया है. इसलिए वह अब राम मंदिर का निर्माण करने में अड़ंगा लगाने की कोशिश कर रहा है ताकि हिन्दू धर्म संकट में पड़ जाए और भारत का विकास रुक जाए.

सरकार ने ऐसे हमलों की आशंका को देखते हुए जनता से अपील की है कि सपने दिखने पर तुरंत टोल फ्री नंबर 1992 पर कॉल करें और जानकारी दें.