Thursday, 15th November, 2018

BCCI ने भारत​-विंडीज़ सिरीज़ के लिये कोच शास्त्री के रहने की बुकिंग Oyo Rooms में करायी ये कहकर कि ये पिछ्ले 15-20 सालों में किसी कोच का बेस्ट स्टे अरेंजमेंट है

04, Oct 2018 By Vish

BCCI ने आगामी भारत-विंडीज़ ऋंखला के लिये कोच रवि शास्त्री का रहने ठहरने का इंतज़ाम किसी पाँच सितारा होटल में नहीं बल्की OYO Rooms में करा दिया है। BCCI का कहना है कि ये किसी भी कोच को ठहराने का पिछले 15-20 सालों का बेस्ट इंतजाम है।

OYO Rooms में अपनी बुकिंग का कन्फर्मेशन चेक करते हुए शास्त्री
OYO Rooms में अपनी बुकिंग का कन्फर्मेशन चेक करते हुए शास्त्री

BCCI में टूरिंग पार्टी के संभार-तंत्र(logistics) के इंचार्ज चंपत शाह ने OYO Rooms के अंतर्गत होटल ‘सम्राट इंटरनैशनल’ में शास्त्री जी की बुकिंग कराकर डिटेल्स उन्हें ई-मेल कर दिया था। शास्त्री जी को इस बात का पता तब चला जब दुबई में फ़ाईनल की जीत के जश्न को अंजाम तक पहुँचाने के बाद उन्होंने सोचा चलो अब आगे के जश्न का इंतजाम भी देख लिया जाये। उन्होंने बिना ठीक से डिटेल्स चेक किये सीधा होटल के मैनेजर को फोन मिलाकर पूछा – ‘तो भई वहाँ पीने के क्या क्या आॅप्शन्स हैं?’

पर सामने से जो जवाब आया उसे सुनकर शास्त्री जी की सारी की सारी उतर गयी। मैनेजर ने कहा, ‘सर पीने में 2 आॅप्शन्स हैं – चाय और काॅफ़ी। और वो भी सिर्फ़ एक टाईम मिलेगी – सुबह।’ फ़िर शास्त्री जी ने हँसते हुये कहा, ‘अरे भाई, मज़ाक मत करो। मेरा मतलब तो शाम की जाम से था।’ इसपर मैनेजर ने कह दिया कि वहां ये सब नहीं मिलता। तब जाकर शास्त्री जी को एहसास हुआ कि इस बार उनका गुजारा OYO Rooms में ही होने वाला है।

उन्होंने फ़ौरन चंपत शाह को फ़ोन कर पूछा कि उनका स्टे किसी पाँच सितारा होटल में ना कराकर ऐसी घटिया होटल में क्युँ कराया गया है? तो चंपत बाबु उनपर भड़क कर बोले, ‘क्या दिक्कत है इस होटल में? सुबह का नश्ता है, फ़्री wifi है, AC रूम है, टिवी में टाटा स्काई है, दिन में 2 बार रूम की सफ़ाई होगी। पिछले 20 सालों में किसी भी कोच को ऐसा इंतजाम नहीं मिला होगा।’ ये कहकर उन्होंने फ़ोन काट दिया।

BCCI ने खिलाड़ियों के रहने का इंतजाम हमेशा की तरह पाँच सितारा होटल में ही कराया है। हालांकि इसमें शास्त्री के लिये कोई घबराने की बात नहीं है क्युंकि सभी जानते हैं कि कोच के सर पर कप्तान का हाथ है और जहां कप्तान कोहली चाहेंगे bcci को आखिर उन्हें वहीं ठहराना पड़ेगा।